Love Shayari

Doston swagat hai aap sabhi ka shayari ki dukan me jahaan hum aapse share kar rahe hain 100 se bhi zyada love shayari . Aasha karte hain aapko yeh sabhi shayari pasand aayegi . Shayari yahan aapko kaisi lagi yeh hame in aap jarur bataiyega .

love shayari

1)महसूस कुछ यूँ किया है
पी रहा हूँ अमृत
जिसका जिक्र हमने आज
पहली ही दफा किया है
अब जैसे हर पल को
खुल के जिया है
किस्सा कुछ ऐसा ही है हमारा
हिस्सा हो चुके हैं हम तुम्हारा
बड़ी खुबसूरत है हमारी जहाँआरा

2)तसवीरें बोल पड़ेंगी
तकदीरें जाग उठेंगी
बजने लगेंगी शहनईयां
लुट जाएूँगी तनहाइयां
जब जब नज़रें तुम्हारी
हम से मुलाकातें करेंगी
आदतें हमारी तुम पहचानती हो
दूरियां हैं क्यूँ यह भी जानती हो
और क्या चाहे खुद से
जब तुम हमें अपना मानती हो

3)संभाला तुम्ही ने अपने आँचल में
मेरी हर हार के बाद
आयी तेरे होठों पे मुस्कान
मेरे सूखे प्याले में भर जाए
खुशियाँ कुछ ऐसे थे मेरे अरमान
हाँ में था नादान
मुझे इल्म ही न था
तू ही है मेरी सच्ची कदरदान
संभाला तुम्ही ने अपने आँचल में
बाँधा मेरी हर बूँद को बरसाती बादल में
इस दफा कुछ ऐसा बरसूँगा
हारू या जीतू मैं बस झूमूँगा

13 Jun

की हम हैं तेरे

हंसी जो देखी तेरी |
साँसे थमी मेरी |
प्यार के दो बोल तेरे |
जैसे शबुरी के मीठे बेर |
कब मांगोगी मुझसे कैर |
मांगते हैं वचन तेरे |
की दूर न होना हम हैं तेरे |

13 Jun

ज़िन्दगी की जरुरत हो तुम

बड़ी मुशकिल से यह प्यार हुआ |
कफर मोहब्बत- ए- इकरार हुआ |
कभी रूठना मानना हुआ |
तो मिलना बिछुड़ना भी हुआ |
जिस फूल को माली का प्यार न मिला |
वोह फूल गुलिस्तान में न रहा |

13 Jun

मेरा गुमान हो तुम

जीवन का आधार हो तुम |
मेरा गुमान हो तुम |
शुक्र है की मेरे पास हो तुम |
मेरी पहचान हो तुम |
जीने का अंदाज़ हो तुम |
खुद को बदल देंगे तुम्हारी खातिर |
एक बार कह जो दो तुम |

hum aapse bahut pyar karte hain
13 Jun

साथ हमारा….

हाथों में रख कर हाथ |
दोनों बैठे थे साथ |
जाने क्या थी बात |
दोनों चाल दिए साथ |
कुछ देर बाद |
फिर दिखे साथ |
हाथों में लेके हाथ |

13 Jun

बातें तेरी इश्कानी

मैंने कही तुने मानी |
तेरे बिना जिंदगी बेमानी |
बातें तेरी इश्कानी |
महके जैसे रात की रानी |
हाथों में रख कर पानी |
तू सोचे बन जाऊ जल की रानी |
तेरी बातों की ही तरह |
तू तो है बहता पानी |

13 Jun

दीवानगी

तेरी दीवानगी की कोई हद नहीं |
हमारे प्यार की कोई सरहद नहीं |
प्यार के समंदर में डूबे दो दीवाने |
जिसकी कोई हद नहीं |

13 Jun

देखके तेरी तस्वीर

उन चन्द लम्हों की दरकार है
जब तुझे अपना कह सकूँ |
सच कहूँ तो उस पल को भी
तुम से बड़ी आस है |
तेरे आने का वक्त है करीब |
एस वास्ते रूह को मैं दे रहा तहजीब |
तुझसे मिलने की मैं
हर पल करता रहता हूँ मैं तरकीब |
खाली वक्त में बहला लेता हूँ मैं
खुद को देखके तेरी तस्वीर |

13 Jun

अब होश नहीं

पंख लगे हैं तबसे |
तुमसे मिले हैं जबसे |
होि में आन वाले हैं |
तुझ में खो जान वाले हैं |
सपनो की दुनिया से निकल ,
हकीकत को पीन वाले हैं |
वक्त हो गया है तेरे होठों से
अपन लबो को लगायेंगे |
हम तुम्हे फिर से
जन्नत का एहसास कराएँगे |

13 Jun

गीत गुनगुनाउंगी

देख के तुझको एक चिड़िया चहकी ,
बोले बिंदिया लगाउंगी|
तेरे साजन के घर जाउंगी |
मन में उठी हलचल दूर भगाउंगी |
तेरे संग डोली में जाउंगी |
मिलन के गीत तेरे लिए गुनगुनाउंगी |

love shayari
13 Jun

बज उठी शहनाइयां

तेरी मेरी प्यार की दास्तान ,
हर जुबान पे आएगी |
चंद दिनों में शहनाइयां बज जायेंगी |
संगीत में सब झूम उठेंगे |
मिलने को हम बैचैन खड़े हैं |
पर दरवाजों के ताले जड़े हैं |