Shayari ki Dukan

26 Jun

वक़्त हम को चलाता जाता है

हम तेरी ही बातें करते हैं
वक़्त जेसा कहाँ कोई होता है
हम तेरे लिए आहेंभाते हैं
जिंदगी कि कहानी याद नहीं-2
हम तेरा पता पूछा करते हैं
जीवन में भला कब कौन मिले-२
ये कौन किसे बतलाएगा
पर मुझसे जो पूछा वक़्त ने कभी
हम तेरी वफा को याद करें
हर पल बस तेरी फरियाद करें
वक़्त पे यकीन हैं मुझको
एक वक़्त भी एसा आएगा
जब पल पल तेरा हो जाएगा
में मेरा कहीं खो जाएगा
और तुझसे कहीं गुल जाएगा-2

attitude shayari in hindi for fb status
26 Jun

मर्दों कि इस दुनिया में

Long hindi poems , good poems in hindi ,  romantic love Poems in hindi , short hindi poems on life , sms hindi love shayari romantic , best short hindi poem , Shayari hindi me , nice love shayari in hindi , what is love in hindi shayari , shayari related to love, poems on women in hindi 

Long hindi poems

मर्दों की इस दुनिया में

औरत की भी पहचान बने

जो हर मर्द इंसान बने-2

मर्दों की इस दुनिया में                                        

औरत की जयजयकार सुने

जो हर औरत

अपने सपनो का संसार बुने-2

मर्दों की एस दुनिया में

औरत को भी अधिकार मिले

वो भी अपना किरदार चुने-2

मर्दों की इस दुनिया में

हर घर में एसे हालत बने

बेटी को बिन मांगे

सब का प्यार मिले-2

मर्दों कि इस दुनिया में

एसे हालात बने

हर औरत को सच्चा प्यार मिले-2

 

Best short hindi poems

Long hindi poems , good poems in hindi ,  romantic love Poems in hindi , short hindi poems on life , sms hindi love shayari romantic ,

Shayari hindi me , nice love shayari in hindi , what is love in hindi shayari , shayari related to love

sanam teri kasam shayari
26 Jun

हर पल में

तुम्हे शामिल करने की
आरजू रखते हैं
हो कहीं भी
पर तेरी गुज़ारिश करते हैं
इंतजार एस दफा
दर्द से बेचेंन कर रहा
हम अब हर पल
तेरी ख्वाहिश रखते हैं
कल्पना करना भी मुश्किल है
हर रोज उस खुदा से
तेरी खेरियत कि दुआ करते हैं

bahut pyar karte hain shayari
26 Jun

बाँहों में तेरी

आने की ख्वाहिश
हमारे दिल में है
होठों से तेरे
दो लफ्ज प्यार के
सुनने कि आरजू
हमारे सीने में है
आँखों में तेरी
काजल बन छुप जाने
कि हसरत जाने कब से
हमारे दिल में है
तुम्हारी खूबसूरती को
जीने कि चाहत लिए
आज हम फिर तेरी
महफिल में हैं

mohhabbat shayari hindi me
26 Jun

खूबसूरती को तुम्हारी

हम कुछ यूँ जि जाएँगे
जीवन में तुम्हारे
हम बहार बन छाएंगे
सपनों में तुम्हारे
हम रोज आएँगे
चाहत में तुम्हारी
तुम्ही से कहाल्वाएंगें
जो यह न हो सका हमसे
हम तेरे प्यार में
खुद हि को भूल जजाएंगे

26 Jun

हिसाब मांगती थी चूड़ियाँ तुम्हारी

जवाब चाहती थी बिंदिया तुम्हारी
हम सोचते थे बस तुम हो हमारे
क्या जानते थे
हम हो चुके थे तुम्हारे
तेरी याद में भूल रहा हूँ
भुला राला हूँ खुद हि को
आस तुम्ही से बांद रहा हूँ
बस तुम्हारी खातिर जाग रहा हूँ
अनजाने सपनों के पीछे भाग रहा था
केसे लड़खड़ाते क़दमों को संभाल रहा था
साथ ने तुम्हारे हमे इत्मिनान दे दिया
कर्मो को मेरे अंजाम दे दिया

26 Jun

फूलों कि सेज

माँ का करेज
हिफाजत कि रेल
रिश्तों का मेल
कुछ ऐसा हि है
बचपन का खेल
बड़े बड़े सपनों की
इमारत रखते हैं
कभी कभी मासूमियत में
इतिहास रचते हैं
हर पल
एक सुनहरी सी दुनिया कि छाया
माँ तेरे आँचल में दिखती है
चाँद-सितारों कि दुनिया भी
तेरी गोद को तरसती है

26 Jun

आदत है हमारी

आदत है हमारी
ठोकरे कितनी भी खाए
उतरनी नहीं खुमारी हमारी
चाहे हम टूट कर बिखरक्यूँ न जायें
पीठ पीछे हम न जाने
क्या क्या कहलाए
फिर भी धुल न झोंक पाएं
हर रास्ते हर मंजिल
हर आएने कि कसक
जाने कहाँ कहाँ
बिखरी पड़ी है
मेरे सपनो कि कि झलक
पर में न भूला था
न भूलूंगा
साँसेचल रही हैं
जब तलक

26 Jun

ना रोको खुदको

ना किसी को
करने को मनमानी ।
बड़े बड़े सबक सिखला जाती
यह नशीली जवानी ।
सन्नाटो में ना दोडो
लेकर अपनी आवाज ।
ना रखो में कोई राज ।
जरा सुना दो
हमे भी साज ।
जिसे याद कर आती आ जाती है
दिल से तुम्हारी भी आवाज ।
आने वाला वक़्त है
हम सभी के लिए खास ।
हो जाओ तेयार
आओ मिलकर करें
एक परयास।
जिसकी आस में शहीद हुए
भगत और आवाज ।

25 Jun

ऊूँची उड़ान भरने को

तरक्की की चाहत लिए
वो बस चल दिए
किसी ने रोका
किसी ने टोका
शायद वो उनकी
फितरत से अनजान थे
या यूँ कहे की नादान थे
ऊूँची उड़ान भरने को
उनके पंख फड फड़ा उठे
कुछ नया करने की आदत में
वो बरसो की नींद से जाग उठे
बैठे -बैठे वो भी सपनो में ढूब जो जाते
कुछ करने के वक़्त बस बाते वो बनाते
तो हम थे जहा बस वही रह जाते
चूल्हा जलाने की खातिर
हम तुम आज भी
पत्थरों को रगड़ खिलाते