X

Love Shayari

आओ बीती बातों को

मिठास जो मेरी बोली में होती मेरे और उसके कदमो के बीच में इतनी दूरी ना होती जब जब अपनी पलके उठाती मुझे अपने सामने पाती बस इतना सा ख्वाब ही तो वो दिन भर अपनी आँखे में है सजाती तो फिक्र क्यूँ औरों की करें जब जिक्र हम तुम… Read More

मंजिल मिल चुकी थी

जाने अनजाने किसी से गुफ्तगू कर ली फिर बातों बातों में दोस्ती कर ली प्यार के रंग में डूबे जा रहे थे कसमे -वादे निभाना चाह रहे थे दोनों अपनी ही बस्ती में खुश थे भीड़ में थे पर वो गुम थे हर पल में उनके एक अजब सी मस्ती… Read More

बंधन में बंधे हैं

काजल से सजी आँखों में नज़रें तुम्हारी कुछ ऐसी सज रही हैं की कह रहे हैं कुछ और आप हैं की कुछ और ही समझ रही हैं बंधन में बंधे हैं जहा नियम बड़े कड़े हैं तेरे इंतज़ार में ना जाने कब से यही खड़े हैं Read More

मेरा मैं न जाने कहाँ चला गया

देखना उन्हें चाहते हो जो देख नहीं सकते जानना उन्हें चाहते हो जो बन नहीं सकते उनका हाथ थामने को बेक़रार बैठे हैं कुछ उनकी याद में उदास उदास हैं भूलने की कोशीश बेकार है उनका नाम लिया तो ज़िंदगी भी उड़ने को तैयार है वरना भटकने में गजुरते यूँ… Read More

इश्क की इन गलियों में

जिन गलियों से गुजरने की ख्वाहिश लिए चले जा रहे थे जिस दुपट्टे के सरकने से हम मचले जा रहे थे आज उन्ही गलियों में उसी दुपट्टे के सगं उड़ने की चाहत मेरे दिल में यूँ घर कर गयी इश्क की इन गमलयों में जब तू मेरी आँखे नम कर… Read More