X

Love Shayari

वहीं तो रचा बसा होता हैं

बेदहसाब किताबे पढ़ कुछ कलमे गढ़ अनजानो ने सराहा कभी कभी मलिते मलिते वो पा जाते हैं दोराहा उन्हें भाता है रिश्तो का चोराहा मलिने की आड़ में खुद की पहचान में वो बस चाहते हैं इक किनारा वहीं तो रचा बसा होता हैं उनकी खुशियों का नज़ारा तो क्यूँ… Read More

दिल की दरख्वास्त

इस रूह का एक ही मकसद इश्क में जियें इश्क में खिलें इश्क में उडें इश्क में डाले एक दूजे की बाहों में बाहों के हार नज़रों में तेरी करें अपनी मंजिलो की तलाश और बह चले उन हवाओं की सनसनाती रुत में जहां हो तो सिर्फ तेरे प्यार की… Read More

मेरी आह निकल रही

कशिश तेरी आखों की मेरे दिल में यूँ जगह कर रही दबी जबान से जैसे मेरी आह निकल रही मुस्कान तुम्हारी होठों पर कुछ यूँ बिखर रही बड़ी मुश्किल में हैं हमारी जान देखो अब कहीं जाके हमारी सांसें संभल रही Read More

कुछ कहना चाह रही थी

आज वो फिर नज़र आयी धुंधलाती सी तस्वीर में रंगों की रंगत ने जैसे करामात दिखलाई आज कुछ नया सा एहसास है उसके हाथों में फिर मेरा हाथ है लकीरों को खिंचने की चाहत लिए वो खिलखिलायी और वो हमारे करीब आयी नदियों की धारा को लिए वो बहती ही… Read More

राहों में तेरी

वक़्त तो वक़्त है गुजर जायेगा पानी भी अपनी राह खुद ही बनाएगा राहों में तेरी मेरा आना यूँही लगा रहेगा कोई कुछ कहे मेरा प्यार तुम्हे यूँही मिलता रहेगा जमाने गुजर जायेंगे हम तुम फिर ना जाने कितनी दफा लौट लौट कर आयेंगे Read More