X

Love Shayari

लिखने मे भी आनन्द कहाँ आता है

आप कि खातिर आप कि कसम कहने को हम जी रहे है पर तुमसे मिलने कि आस मे तड़प से रहे है वक़्त वो पल भर मे गुजर जाता है जिस पल मे तुम्हारा साथ घुल जाता है और सुनो रानी तुम पास ना हो तो लिखने मे भी आनन्द कहा आता है Read More

लिखने मे भी आनन्द कहा आता है

आप कि खातिर आप कि कसम कहने को हम जी रहे है पर तुमसे मिलने कि आस मे तड़प से रहे है वक़्त वो पल भर मे गुजर जाता है जिस पल मे तुम्हारा साथ घुल जाता है और सुनो रानी तुम पास ना हो तो लिखने मे भी आनन्द कहा आता है Read More

तेरे कदमो पे करते हैं निसार

मेरी ख्वाहिसों को रंगीनियत का एहसास दिला रही मेरे ख़्वाबों में तुम इस कदर छा रही जन्नत की मन्नत अब हम क्यूँ करें आशियाने में अपने तेरी जुल्फों में क्यूँ न डूबा करें इतनी हसीन हो और कहती हैं तारीफ़ भी न कया करें जिन्दगी को गुलाबों से महका के मुझे अपना बनाके तेरे एहसान हम कैसे चुकाए तेरा एहसास हम कैसे भुलाएं जीवन की रफ़्तार रुक - रुक कर रही इश्तिहार तेरे किमो पे करते हैं निसार यह दुनिया यह जहां यह बहार Read More

अब हार पे मुस्कुराना भी आ जायेगा

अब हार पे मुस्कुराना भी आ जायेगा तेरे प्यार में रहे तो खिलखिलाना भी आ जायेगा मुश्किलो से भला हम क्यु डरें तेरा साथ मिला है जब से आँखोंमें नए नए सपने से हैं भरे आसान हो गया है अब जीना वो वक़्त पीछे छूटा जब रखना होता था होठों को सीना अब गुनगुनाने में दिल बहल जाता है तुम पास हो ना हो जिक्र तुम्हार खुद ही से हो जाता है तेरे आने की दस्तक सुनते ही दिन कब कैसे इंतज़ार में तुम्हारे हाथों से फिसल सा जाता है अब तो तुमसे मिलके ही यह दिल सुकून को पाता है कई दफा तनहा रातों में तुम्हारी हसरत में यह मन मचल भी जाता है अब तो बहती हवाओं की धुन में भी नाम तुम्हारा ही सुनने को जी चाहता है Read More

रिश्ते के मायने

रिश्तेनाते मिटटी में मिल जाए भाई - भाई के काम न आये जल्लादों के हाथों हो देश की सत्ता न मिल फूल न पत्ता समझने जरुरी हैं ,कुदरत के कायदे मज़ा जिन्दगी में है , जब समझे रिश्तो के मायने Read More