X

Love Shayari

चुरा लू तुम्हे तुम्ही से

कोशिशो को मेरी राहत है | तू मेरी बरसों की चाहत है | तू खूब , खूब तेरी नज़ाकत | तू नूर , खूब तेरी शराफत | हमको मंज़ूर तेरे ख्वाबों की हिफाज़त | चुरा ले हम तुम्ही को जो तुम दो इज़ाज़त | Read More

तेरे बिना खुद को अधूरा पाया

तेरी खामोशियाँ जवाब हैं , उन सवालों का | तेरी मजबूरियाँ जवाब हैं , उन सवालों का | जो पूछ रही थी मेरी सुबह - शाम | तरस आता है खुद पे याद करूँ ज वो शाम | प्यार से तेरे सबूत मांग रहा था | मासूमियत को तेरी लाचारी… Read More

ख्वाबों में तेरे…..

ढूंढ़ रही हो हमें कहाँ -कहाँ | पिछली रात चाँद ने तुम्हे क्या कहा | हमारी मुलाकातों के किस्से हो रहे | तारे भी हमारी बातों में खो रहे | झरोखे से हमें निहारे रही | दिलमें हमारे झाँख रही | अपनी किस्मत पे हमको यकीन हो गया | ख्वाबोंमें… Read More

ना जाने तुम कहाँ गए

हालातों के मद्देनज़र एक ख्याल आया | किताबमें रखा बरसो पुराना गुलाब जो नज़र आया | दुनियादारी में हम क्या से क्या हो गए | चाहते थे उन्हें और उन्ही से दूर हो गए | अरमान फिर जाग रहे | उन्हें अपने मान रहे | वक्त से कदम मिलाते -… Read More

वो इश्क ही क्या जहां तेरी रजा नहीं

मोहतरमा , इश्क ह वो जुनून | जो देता सुकून | इश्क मखमली चादर | जैसे मीठे पानी का सागर | इश्क करन वाले के दिलों में इश्क ही बसा करता है | सामने से कोई जवाब आये न आये , उनकी बेहतरी की फ़रियाद किये  करता है | इश्क… Read More