वो गलियाँ

21 Aug वो गलियाँ

Love shayari

Love quotes

वो गलियाँ

वो रस्ते

वो रिश्ते

जिनको तरसते थे हम

अब हमारे हुए

मजबूर हैं हम सनम

वजह यही थी की

तुमसे मिले

हमें ज़माने हुए

कुछ पास हो कर भी

एक दूजे से अंजान हैं

और हम दूर हैं

फिर भी एक दूजे की पहचान हैं

Love quotes