प्यार भरे नगमे

05 Sep प्यार भरे नगमे

Love shayari

Pyar bhare nagme 

गरमा गरम चाय की प्याली 

बनाने वाली मेरी घरवाली
है बड़ी दिलवाली

_______________________

वो मायने गर रिश्तों के

समझ सकते

तो उनके बूढ़े माँ बाप

आश्रम में क्यों रहते

_______________________

गरीब ठोकरे खा रहा था

अमीर ठहाके लगा रहा था

अमीर चाँद पे जा रहा था

गरीब उस वक्त भी
उम्मीदें ही पाल रहा था

_________________________

कहीं सवेरा हो रहा है
तो कहीं रात

कुछ बैचैन हैं कि
आज है उनकी पहली मुलाकात

_________________________

सुना है उसको
मोहब्बत से गुरेज़ है

शायद दिल मे है जो उसके
उसे इश्क़ से परहेज़ है

______________________

 

शरारतें प्यार की
मोहब्बत मेरे यार की
आओ बातें करें
इश्के इजहार की

Pyar bhare nagme

Love shayari ,

sad shayari ,

Romantic shayari ,

love messages ,

love sms ,

Top shayaris 2017,

Facebook shayaris ,

whatsapp shayaris