बाँहों में तेरी

bahut pyar karte hain shayari

26 Jun बाँहों में तेरी

आने की ख्वाहिश
हमारे दिल में है
होठों से तेरे
दो लफ्ज प्यार के
सुनने कि आरजू
हमारे सीने में है
आँखों में तेरी
काजल बन छुप जाने
कि हसरत जाने कब से
हमारे दिल में है
तुम्हारी खूबसूरती को
जीने कि चाहत लिए
आज हम फिर तेरी
महफिल में हैं