एहसास तेरा……

12 Jun एहसास तेरा……

तुने अपनी आँखों में छिपा के रखा |

कुछ लफ्जों में दबा के रखा |

हम मिले कई मरतबा ,

तुने अपने जज्बातों को दबा के रखा |

तन्हाई में सनम , तेरी आँखों से जो छलका ,

उस एहसास को हमने अपने दिल में संजोये रखा |