हमारे बिना रह नहीं पाते

25 Jun हमारे बिना रह नहीं पाते

दिल तो तुम्हारा
संभाले नहीं संभल रहा था
मैं कुछ भी कहूं
तुम्हे खूब जच रहा था
हर पल के संग
तेरी मेरी नजदीकियां
बढती ही जा रही थी
धीरे धीरे ही सही
जिंदगी पटरी पे आ रही थी
कुछ तो जिंदगी भर साथ रहके भी
एक दूजे को समझ नहीं हैं पाते
और तुम हो की एक पल को भी
हमारे बिना रह नहीं पाते