X

हमसफ़र मेरे

अपनी अपनी मंजिलो का दामन ,
थामें सब भाग रहे हैं |
हम तुम्हे अपना हमसफ़र जान रहे हैं |
भूल कर भी शक ना करना हमारे प्यार पर
इतना एहसान करना, इस गुलाम पर |
हमारा प्यार है शबाब पर |
आ मेरे जीवन को गुलज़ार कर |

This post was last modified on September 9, 2017 10:34 am