X

खूबसूरती को तुम्हारी

हम कुछ यूँ जि जाएँगे
जीवन में तुम्हारे
हम बहार बन छाएंगे
सपनों में तुम्हारे
हम रोज आएँगे
चाहत में तुम्हारी
तुम्ही से कहाल्वाएंगें
जो यह न हो सका हमसे
हम तेरे प्यार में
खुद हि को भूल जजाएंगे

This post was last modified on September 9, 2017 10:10 am