मुझसे मेरा साया

24 Jun मुझसे मेरा साया

मुद्दतो में किसी को
ऐसा प्यार नसीब है होता
वो है बदनसीब जो
उस पर से यकीन है खोता
कहते नहीं बनता
सपने जो था बुनता
हुबहू तुममे पाया
खुदा ने मिलाया
मुझसे मेरा साया