स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं

15 Aug स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं

दोस्तों हमें आज़ाद हुए सालों बित गए ।

और हम सब के लिए आज़ादी के मायने भी

अलग अलग हैं । दोस्तों हमारे भारत में

भिन्न भिन्न प्रकार की वेशभूषा हैं , खानपान है ।

ठीक उसी तरह हम सब की सोच भी

एक दूजे से भिन्न है ।

चाहे हममे कितनी ही विभिनतायें हैं ,

पर कुछ तो बात है हमारे देश की मिट्टी में ,

जो इतनी विभिनताओं के बावजूद भी

हमें एक माला में मोती सी बांध के रखती है ।

Independence day shayari

 

independence day shayari

 

independence day shayari

 

independence day shayari

 

independence day shayari

 

independence day shayari

 

इसी बात को बयां करती कुछ पंक्तियाँ :-

 

मुल्क के लिए जीना भी
गर्व की बात है ।
मुल्क के लिए मरना भी
गर्व की बात है ।
शहीदों का सम्मान करो
आपस मे लड़ना भी
शर्म की बात है ।।

———————————–

भारत को मेरे चाहने वाले
करोड़ों अरबों हैं ।
माता की तरह
पूजने वाले भी
करोड़ो अरबों हैं ।
हमारे राष्ट्र का भविष्य उज्जवल है
क्योंकि दिलों में हमारे
अपने देश की धड़कन है ।।

———————————

मुबारक हो आपको
स्वतंत्रता का यह पर्व
आओ फिर से याद करें
विविधता में एकता का धर्म

———————————–

स्वतंत्रता पर्व में हर्षोल्लास से
हम सब गाएंगे ।
मिलकर तिरंगा
हम सब फहराएंगे ।।
वतन को अपने हम फिर से
सोने की चिड़िया बनाएंगे ।।

————————————

वतन पे मिटने वालों का
यही सपना रहा होगा ।
की एक दूजे का
हम सम्मान करें ।
तो आओ मिलकर हम शहीदों के
सपनों को साकार करें ।।

 

————————————–

 

प्यार करने की आज़ादी ?
यारों के संग घूमने की आज़ादी ?
बोलने की आज़ादी ?

लूट करने की आज़ादी
मनमानी करने की आज़ादी
दलाली करने की आज़ादी

सबसे बढ़कर है
इन सब को मिलजुल कर
रहने की आज़ादी

 

Read more …….

Independence day status

 

mulk ke lie jeena bhee garv kee baat hai .

mulk ke lie marana bhee garv kee baat

hai . shaheedon ka sammaan karo aapas

me ladana bhee sharm kee baat hai ..

 

———————————–

 

bhaarat ko mere chaahane vaale karodon arabon hain .

maata kee tarah poojane vaale bhee karodo arabon hain .

hamaare raashtr ka bhavishy ujjaval hai

kyonki dilon mein hamaare apane desh kee dhadakan hai ..

 

———————————

 

mubaarak ho aapako

svatantrata ka yah parv

aao phir se yaad karen

vividhata mein ekata ka dharm

 

———————————–

 

svatantrata parv mein

harshollaas se ham sab gaenge .

milakar tiranga ham sab phaharaenge ..

vatan ko apane ham phir se

sone kee chidiya banaenge ..

 

————————————

 

vatan pe mitane vaalon ka

yahee sapana raha hoga .

kee ek dooje ka ham sammaan karen .

to aao milakar ham

shaheedon ke sapanon ko

saakaar karen ..

 

 

Tags: