love story Tag

22 Jun

ऐसी दूरी सह न पाएंगे

इंतज़ार की इंतज़ार
करते करते इन्तेहाूँ हो गयी
बाज़ार में खरीददारी
करते करते शाम हो गयी
घंटो राह में आँखे बिछाये थे बैठे
सोच रहे थे
आजकल चुप चुप क्यूँ हैं रहते
भला हमसे अपने दिल की बात
क्यूँ नहीं हैं कहते
वक़्त अब गुजरता नहीं
तू संग है पर
पहले सी मस्तियाँ क्यूँ नहीं
आँखे शरारती अब क्यूँ नहीं
मुझसे शिकायते भला क्यूँ नहीं
ऐसी दूरी सह न पाएंगे
मजाक में भी हम तुमसे
रूठ नहीं पाएंगे

16 Jun

तेरी मेरी कहानियाँ

हसरतें आज भी खिलखिला रही हैं
तेरी याद में भीगी जा रही हैं
सिमत रही हैं दूरियां
खनक रही हैं चूड़ियाँ
बहती हवा में घुल रही थी
तुम्हारी बेचैनियाँ
जब दूर दूर रहती थी
हमारी तुम्हारी नजदीकियाँ
वहाँ आस्मां भी गुनगुना रहा
तेरी मेरी कहानियाँ

facebook love shayari hindi
15 Jun

तेरे कदमो पे करते हैं निसार

मेरी ख्वाहिशों को रंगीनियत का एहसास दिला रही
मेरे ख़्वाबों में तुम इस कदर छा रही
जन्नत की मन्नत अब हम क्यूँ करें
आशियाने में अपने तेरी जुल्फों में क्यूँ न डूबा करें
इतनी हसीन हो और कहती हैं तारीफ़ भी न कया करें
ज़िंदगी को गुलाबों से महका के
मुझे अपना बनाके
तेरे एहसान हम कैसे चुकाए
तेरा एहसास हम कैसे भुलाएं
जीवन की रफ़्तार
रुक -रुक कर रही इश्तिहार
तेरे कदमो पे करते हैं निसार
यह दुनीया यह जहां यह बहार