sad love status Tag

29 Oct

sad shayari , dhundhali tasveer

तुझे चाहना भूल थी मेरी

मैं कोई फरिस्ता नहीं

जो मुझे भूल कर तू चैन पायेगी

यह धुंधली तस्वीर

बहुत जल्द मिट जायेगी

 

tujhe chahna bhool nahi thi meri

main koi farista nahin

jo mujhe bhool kar

tu chhain payegi

yeh dhundhali tasveer

bahut jald mit jaayegi

 

 Sad shayari’s

Hindi shayari’s 

05 Aug

शुभ रात्रि शायरी

Good night shayari

good night shayari

 

good night shayari

good night shayari

good night shayari

good night shayari

good night shayari

good night shayari

good night shayari

good night shayari

good night shayari

good night shayari

Good night shayari

 

रात की खामोशियों को
गुनगुनाने का मन हो आया
बस वही पल
हमें तुम्हारे करीब ले आया

———————————-

रात की गहराई में
चंदा के संग तन्हाई में

हम दोनों गुपचुप
बातें करेंगे
कुछ दिन यूँही
मुलाकातें करेंगे

————————————

आज रात सपनो में
एक दूजे से बातें करेंगे
जब मिले थे पहली दफा
उस दिन की यादें ताज़ा करेंगे

————————————–

कल जब तुमसे मिलेंगे
रात मेरे सपनों में
तुम आयी थी
ऐसा कहकर
खुलकर अपने दिल की
मोहब्बत का इज़हार करेंगे

———————————-

मत जाओ अभी की
रात बाकी है
हमारी ज़िंदगी की
सबसे सुनहरी शाम बाकी है

 

———————————-

इस दिल के करीब हो तुम
मैं , मेरा यकीन हो तुम

फासले तेरे मेरे दरमियाँ
कभी हो न सकेंगे

क्योंकि मेरी रूह में छुपी
अनकही आरज़ू हो तुम

 

-–———————————

 

बहती रह ऐ ज़िन्दगी
यूँही गुज़र जा हंसते हंसते

जब भी तू रुक जाती है
बेवजह
हम रह जाते हैं तड़पते तड़पते

 

————————————–

 

तेरी अदाओं पे लुट जाऊं
तेरी ज़ुल्फ़ों में खो जाऊं

तू जो कहे तो
बन हवा
तेरी साँसों में घुल जाऊं

—————————————-

मोहब्बत को मेरी कुबूल करो ।
इतनी भी ना मग़रूर बनो ।।

ज़िन्दगी का मज़ा साथ बिताने में है ।
इन पलों को यूं ज़ाया ना करो ।।

 

Good morning status in hindi

Good night status

raat kee khaamoshiyon ko

gunagunaane ka man ho aaya

bas vahee pal hamen

tumhaare kareeb le aaya

———————————-

 

raat kee gaharaee mein

chanda ke sang tanhaee mein

ham donon gupachup baaten karenge

kuchh din yoonhee mulaakaaten karenge

————————————

 

aaj raat sapano mein

ek dooje se baaten karenge

jab mile the pahalee dapha

us din kee yaaden taaza karenge

 

————————————–

 

kal jab tumase milenge raat mere sapanon mein tum aayee thee aisa kahakar khulakar apane dil kee mohabbat ka izahaar karenge

 

———————————-

 

mat jao abhee kee raat baakee hai hamaaree zindagee kee sabase sunaharee shaam baakee hai



Sher-o-shayari

 

10 Feb

दर्द भरी शायरी

Dard bhari shayari

Dard bhari shayari in hindi font 140

दिन दर्द हैं
रातें सर्द हैं
यादें तुम्हारी
बड़ी खुदगर्ज हैं
भीड़ में भी
मुझको जकड़ लेती हैं
बेचैन कर मुझको
झकझोर देती हैं

 

—————————

 

आंखें आँसूं पी पी के चुप हैं
गला रो रो के गमगीन है
दिल का हाल
यह दिल कैसे सुनाए
मन का राग
दर्द में तल्लीन है

 

—————————

 

 

अब तो समंदर के किनारे भी
घूर घूर के हमे देखा करते हैं
तुम कहाँ गयी
यह सवाल बारम्बार पूछा करते हैं

 

—————————

 

 

चुप रहना हमे पसंद नहीं
पर हमारी सुनने को
तुम्हारे पास वक्त ही नहीं

 

—————————

 

 

मिलता नहीं सभी को
इश्क़ में फूलों का गुलदस्ता
कुछ हैं जो कांटों को
अपना खून पिलाया करते हैं

 

—————————

 

 

मयखाने में जाना
हमे बिल्कुल पसंद नहीं
पर तेरे दीदार को
हम हर दीवार को
तोड़ आया करते हैं
—————————

 

पीना भी हमें
तूने ही सिखलाया था
जिस दिन ज़िन्दगी के दोराहे पे
तुमने हमे कसूरवार ठहराया था

 

————————————–

तुझको चाहना भूल थी मेरी
कैसे यह खुद से कहूं
तुझे पता था
तू मजबूरी है मेरी
कैसे यूँ तन्हा रहूं

––————————————-

 

Dard bhari shayari

 

Dard bhari shayari

 

Dard bhari shayari

 

Dard bhari shayari

 

Dard bhari shayari

 

Dard bhari shayari

 

Dard bhari shayari

 

Dard bhari shayari in hindi font 140

 

Din dard hain
Raatein sard hain
Yaadein tumhari
Badi khudgarj hain
Bheed me bhi
mujhko jakad leti hain
Bechain kar mujhko
Jhakjhor deti hain

—————————————

Aankhein aansoon
pee pee ke chup hain
Galaa ro ro ke
gamgeen hai
Dil ka haal
yeh dil kaise sunaye
Man ka raag
dard me talleen hai

—————————————-

Ab to samander
ke kinaare bhi
Ghoor ghoor ke hame
dekha karte hain
Tum kahaan gayi
Yeh sawal barambar
Poocha karte hain

————————————–

Chup rehna hame pasand nahin
Par hamari sunane ko
Tumhare paas waqt hi nahin

————————————–

Milta nahin sabhi ko
Ishq me
phoolon ka guldasta
Khuch hain jo
kaanton ko Apna khoon
pilaya karte hain

—————————————-

Mehkhane me jana
Hamein bilkul pasand nahin
Par tere deedar ko
Hum har deewar ko
Tod aaya karte hain

———————————–

Dard bhari shayari in hindi font 140

Peena bhi hamein
tune hi sikhlaya tha
Jis din zindagi ke
dorahe pe
Tumne hamein
kasoorwar tehraya tha

————————

tujhako chaahana bhool thee meree
kaise yah khud se kahoon
tujhe pata tha
too majabooree hai meree
kaise yoon tanha rahoon